Home » , , , » शादी के पहले जीजू की भाई ने मेरी चूत फाड़ दी

शादी के पहले जीजू की भाई ने मेरी चूत फाड़ दी

मेरा नाम रूपाली है मेरी उमर 19 साल की है, मेरा फिगर काफ़ी सॉलिड है, बूब मेरा काफ़ी टाइट और बड़ा बड़ा है, मेरी गांड गोल गोल और बाहर के तरफ निकला और चौड़ा है, मैं अपने बाल खुला ही रखती हू, मैं पिंक कलर की लिपस्टिक लगाती हू, मेरी बड़ी बहन दिल्ली मे रहती है उनकी शादी आज से 2 साल पहले ही हो चुकी है, दिल्ली मे जीजा जी, दीदी और और उनका देवर साहिल रहते है, दीदी के सास ससुर दोनो मथुरा मे रहते है, मैने 12त मथुरा से की और आगे की पढ़ाई करने के लिए मैं दीदी के पास ही दिल्ली आ गयी और मेरा अड्मिशन कॉलेज मे हो गया और मैं यही रहकर पढ़ने लगी.

दीदी और जीजू जल्दी सोने चले जाते और साहिल काफ़ी लेट घर आता वो अपने दोस्तों मे मसगूल रहता था, मैं रात को पढ़ाई करती थी, जीजू और दीदी जल्दी इसलिए जाते थे क्यों उन दोनो को चोदना और चुदवाना होता था, एक दिन तो मैं जब आआअहह आआअहह उफफफफफफ्फ़ की आवाज़ सुनी तो अपने कमरे के बाहर निकली देखी दीदी दरवाजा लगाना भूल गयी थी और जीजू दीदी के उपर चढ़े हुए थे दीदी का पैर फैला था, जीजू दीदी के दोनो बूब्स को कस के दबा रहा था और चूस रहा था और कह रहे थे की आज तो बड़ी नमकीन लग रही है, और ज़ोर ज़ोर से दीदी के चूत मे अपना मोटा लॅंड घुसा रहे थे, मैने तो ये सब देख तो मेरे मूह मे भी पानी आ गया मेरी भी चूत गीली हो गयी थी मैंने उस समय सब कुछ भूल कर दीदी और जीजू की चुदाई का आनंद ले रही थी और अपनी चूचियाँ मसल रही थी.आप ये कहानी हिंदी सेक्स की कहानी डॉट कॉम पर पड़ रहे है। अच्चानक साहिल आ गया और मेरा हाथ पकड़ के मुझे अपने कमरे ले जाने लगा वो काफ़ी शराब पी रखा था और मूह से सिगरेट की भी बू आ रही थी, खिचते हुए कह रहा था चलो रूपाली आज तुम्हरे मैं वही करता हू जो की आज भाभी और भैया कर रहे है, मैं छुड़ाने की कोशिश करने लगी पर वो  कस के पकड़ा हुआ था मैने कहा मुझे नही करना ये सब और हाथ छुड़ाने की कोशिश कर रही थी, पर वो काफी नशे में था और बोलने लगा वाहा खड़ी होके तो तू अपना बूब दबा रही थी और मज़े ले रही थी, तो कर ले मेरे साथ अब रियल मे और भी मज़ा आएगा, साली ऐसे भी तू मुझसे ही चूड़ोगी ज़िंदगी भर क्यों की मैं तुमसे शादी करने बाला हू, अब तो तू मेरे साथ रोज रोज चुदोगी. और कमरे मे बेड पे लिटा दिया मैं भागने लगी वो वो अपनी मजबूत बाहों मे भर लिया और मेरी नाईटी का ज़िप खोल के मेरे बूब को दबाने लगा, मैने कह रही थी छ्चोड़ दो छ्चोड़ दो,

पर वो मेरी बूब को दबा रहा था और चूस रहा था, कह रहा था तू भी बड़ी नमकीन है रे. उसके बाद मेरे कपड़े उतार दिया और अपना भी कपड़ा उतार दिया मैं उसका लॅंड देखकर हैरान हो गयी क्यों की करीब नाइन इंच लंबा और मोटा लॅंड था, मैं देख के डर गयी सोची की अगर आज मेरे चूत मे डाल दिया तो मैं मार जाउंगी मैं बर्दाश्त नही कर पाऊँगी इतना मोटा लॅंड. वो मेरे होठ पे अपना होठ रख के चूसने लगा और एक हाथ से मेरे बूब को दबा रहा था, अब मैं भी थोड़ी कामुक हो गयी ना चाहते हुए भी मैं हेल्प करने लगी, मैं अपना बूब पकड़ के बारी बारी से साहिल के मूह मे डालने लगी, वो मेरे गर्दन को किस करते हुए बूब पे किया फिर मेरे नाभि को किस करते हुए मेरे चूत के पास पहुच गया और अपनी जीभ से मेरे चूत को चाटने लगा मैं काफ़ी सेक्सी हो चुकी थी मुझे ये सब अच्छा लगने लगा था आज तक मैं चुदी नही थी इसी विच साहिल ने अपने मोटे लॅंड को चूत के मूह पे रख के एक ही झटके मे अंदर कर दिया मैं चिल्ल्ल उठी मररर्र्ररर गई………………….. उउफफफफफफफफफफफफ्फ़ और मैने उसी समय साहिल ने मेरे मूह पे अपना हाथ रख दिया अब तो मैं चिल्ला भी नही सक रही थी. मैने महसूस किया की मेरे चूत से खून निकल रहा था, वो फिर दो तीन झटके दिया तब तक काफ़ी दर्द हो रहा था पर थोड़े देर मे ठीक हो गया और अब मुझे चुदना अच्छा लगने लगा, फिर क्या था वो ज़ोर ज़ोर से मेरे बूब को दबा रहा था ऐसा ला रहा था वो अपने एक ही मुट्ही मे मेरे बूब को पकड़ लेना चाहता था पर मेरे बूब बड़ा बड़ा था इश्स वजह से इधर से उधर से निकल जाता था,  इतने मे, वो ज़ोर ज़ोर से और करने लगा मैने भी अपना गांद उठा उठा के चुदवाने लगी, करीब 10 से 15 मिनिट तक चोदने के बाद हम दोनो साथ झड़ गये, साहिल मुझे अपनी बाहों मे भर लिया और मेरे गुलाबी होठ पे किस करने लगा, मैने कहा साहिल ये आपने अच्छा नही किया मैं शादी के पहले चुदना नही चाहती थी, आप ये कहानी हिंदी सेक्स की कहानी डॉट कॉम पर पड़ रहे है। तो साहिल बोलने लगे मेरी जान डरती क्यों है पता है तेरी शादी मेरे से ही होने बाली है, तो मैने कहा तूने अपना वीर्य मेरे चूत मे ही डाल दिया अगर मैं प्रेगञेन्ट हो गयी तो, तो साहिल बोला मेरी जान मेरा बच्चा होगा तो क्या हुआ मैंने तो तुम्हे अपनाने के लिए तैयार हु, तुम चिंता क्यों कर रही हो. फिर वो गुड नाइट बोला और अपने कमरे में सोने के लिए चला गया , मैने सुबह उठ नहाई और नास्ते के टेबल पे गयी वाहा दीदी जीजू और साहिल पहले से थे जीजू ने कहा रूपाली आपकी शादी तय हो गई है साहिल से, साहिल मेरा फेस देखके मुस्कुराने लगा था पर मैं कुच्छ भी नही बोली मई अपने चचेरे भाई अनिल से शादी करना चाहती थी, अनिल काफ़ी अच्छा लड़का है वो मेरे साथ खेला कूड़ा, पढ़ा लिखा है, देखने मे भी साहिल से अच्छा है, दीदी समझ गयी बोली रूपाली तुम्हे और कही मूह मारने की ज़रूरत नही है तुम शादी करोगी तो सिर्फ़ साहिल के साथ बस. तभी साहिल बोल पड़ा भाभी क्या मैं रूपाली को डिस्को ले जा सकता हू, तो भाभी बोली क्यों नही ले जाओ, तुम्हारा माल है जो चाहे करो, तो जीजू भी बोलने लगे, हा हा एंजाय करो ऐसे भी महीने दिन मे ही शादी हो जाएगी.आप ये कहानी हिंदी सेक्स की कहानी डॉट कॉम पर पड़ रहे है। फिर मैं शाम को साहिल के साथ डिस्को गयी, वाहा तो मुझे काफ़ी किस किया और बूब भी प्रेस किया, रात को करीब हमलोग 11 बजे वापस लौटे, जीजू ने गाते खोला, तो शैल ने पूछा भैया क्या मैं रूपाली को अपने कमरे मे सुला सकता हू, तो जीजू बोले क्यों नही जाओ जाओ एंजाय करो, जो करना है करो, आज कल सब चलता है, फिर क्या था साहिल मुझे फिर अपने कमरे मे ले गया और मुझे रात भर चुदाई की, मेरी शादी एक महीने मे हो गयी थी पर साहिल मुझे शादी के पहले से ही चोदने लगा था, मैं अभी भी साहिल से खुश नही हू, मुझे मूह मारने की आदत हो गयी है, अगर आपको सेक्स चाहिए पर एक प्रोमिस है आपको सारे बात सीक्रेट रखनी होगी, नही तो मेरा शादी शुदा ज़िंदगी खराब हो जाएगा, प्लीज़ इश्स बात का ख्याल रखे. कैसी लगी चुदाई की स्टोरी , अच्छा लगी तो शेयर करना , अगर कोई मेरी चूत की चुदाई करना चाहते हैं तो अब जोड़ना Facebook.com/RupaliSharma

1 comments:

Sex kahani,xxx kahani,bhai behan ki xxx sex,baap beti ki sex,devar bhabhi ki sex

Delicious Digg Facebook Favorites More Stumbleupon Twitter